Question: कुंडली कैसे प्राप्त करें?

जन्म तारीख से कुंडली कैसे बनाएं?

ऑनलाइन अपने मोबाइल से जन्म कुंडली कैसे बनाये?ऑनलाइन जन्म कुंडली बनाने के लिए आपको सबसे पहले www.freekundli.com पर जाना होगा। डायरेक्ट लिंक पर क्लीक करने पर आपके सामने नीचे दिखाई गई इमेज की तरह फॉर्म ओपन होगा।यहाँ आपको अपनी सभी डिटेल्स जैसे नाम, जन्मतिथि, जन्म समय आदि भरनी होगी। जैसे ही आप सबमिट बटन पर क्लीक करेंगें।21 Feb 2020

कुंडली बनाने के लिए कौन सा ऐप डाउनलोड करें?

स्टेप-1 AstroSage Kundli App Download करने के बाद इसे ओपन कीजिये। अब सबसे पहले आपको भाषा सेलेक्ट करना है। जैसे हिंदी में जन्म कुंडली चाहिए तो hindi सेलेक्ट कीजिये और निचे स्क्रीनशॉट की तरह NEXT पर टैप करें। इसके बाद janam kundli तैयार हो जायेगा।

प्रश्न कुंडली कैसे बनाते है?

प्रश्नकर्ता के बताए गए समय के अनुसार घंटे- मिनटों के अनुसार बनी हुई मासिक-दैनिक- लग्न सारणी जो कि रेलवे स्टैण्डर्ड समय के अनुसार अर्द्ध रात्रोत्तर घंटा-मिनट पर बनी हुई है। उसके आधार पर लग्न प्राप्त कर लग्न की स्थापना करें। लग्न के प्राप्त होने पर कुंडली में राशि एवं ग्रहों का साधन कर पूर्णरूपेण प्रश्न कुंडली बना लें।

कुंडली देखने के लिए कौन सा ऐप है?

AstroSage Kundli : Astrology- Ojas Softech Pvt Ltd द्वारा बनाया गया ये ऐप यूजर्स के भविष्य की जानकारी देता है। इसमें दैनिक राशीफल, मासिक राशीफल और सालाना राशीफल दिया जाता है।

ऑनलाइन कुंडली कैसे देखें?

निम्नलिखित चरणों का पालन करके ऑनलाइन कुंडली प्राप्त करें:अपना नाम दर्ज करेंअपनी जन्म तिथि और जन्म समय दर्ज करेंअपने जन्म स्थान को दर्ज करेंअपना जेंडर डालेंअपना मोबाइल नंबर और मेल आईडी दर्ज करेंअपने प्रश्न का चयन करें

प्रश्न कुंडली क्या है?

जब जन्म कुंडली उपलब्ध न हो या प्रश्नकर्ता सम्मुख न हो मगर उसे प्रश्न का समाधान जल्दी चाहिए हो, तो ऐसे में प्रश्न कुंडली की विधि अपनाई जाती है और प्रश्नकर्ता के प्रश्नों का समाधान दिया जाता है। उस समय जो लग्न होता है उसके आधार पर लग्न कुंडली बनाई जाती है। उसमें ग्रहों की स्थापना की जाती है।

मृत्यु योग कब बनता है?

जन्म कुंडली में जब कुछ अशुभ योग बनते हैं तो व्यक्ति की अकाल मृत्यु होने के योग बनते हैं। 1. जिसकी कुंडली के लग्न में मंगल हो और उस पर सूर्य या शनि की अथवा दोनों की दृष्टि हो तो दुर्घटना में मृत्यु होने की आशंका रहती है।

मृत्यु कब होगी ज्योतिष?

अगर व्यक्ति की कुंडली में लग्न से 8वें या त्रिकोणस्थ सूर्य, शनि, चंद्र और मंगल है तो ऐसे व्यक्ति की मौत सड़क दुर्घटना या फिर किसी दिवार से टकाराकर होने की आशंका होती है। 5. ज्योतिष के अनुसार जिस जातक की कुंडली के 8वें घर में जो ग्रह सबसे बलवान दिखता है, उसकी मृत्यु उस ग्रह के धातु के प्रकोप से होने की आशंका रहती है।

मृत्यु तुल्य कष्ट क्या होता है?

मारकेश का अर्थ है मृत्यु तुल्य कष्ट अर्थात जन्मकुण्डली में जो ग्रह मृत्यु या मृत्यु के समान कष्ट दें उन्हें मारकेश कहा जाता है। आप-अपनी जन्मपत्री देखकर स्वयं जान सकते है कि मेरे कौन से ग्रह अपनी दशा में मारकेश का रूप लेंगे।

मेरी राशि के हिसाब से मेरी शादी कब होगी?

ज्योतिषशास्त्र के अनुसार अगर आपकी कुंडली के सप्तम भाव यानी विवाह के घर में वृष, सिंह, वृश्चिक और कुंभ राशि स्थित है तो शादी आपके घर से 90 किलोमीटर के अंदर ही होगी। अगर इस जगह चंद्र, शुक्र तथा गुरु हों तो ऐसे में लड़की की शादी घर के आसपास ही होती है।

Write us

Find us at the office

Kitzler- Rayna street no. 70, 68971 Bujumbura, Burundi

Give us a ring

Camellia Kreckman
+52 403 997 569
Mon - Fri, 7:00-23:00

Contact us